Home > Joint Care > जोड़ों के दर्द की समस्या का उपाय

जोड़ों के दर्द की समस्या का उपाय

जॉइंट पेन (Joint Pain) यानी जोड़ों के दर्द की समस्या आज किसी एक वर्ग के लिए नहीं, बल्कि हर वर्ग के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन चुका है। जॉइंट पेन की वजह से उठने-बैठने, चलने-फिरने, विशेषता सीढ़ियां चढ़ने-उतरने में बहुत परेशानी होती है। घरेलू या ऑफिस कोई भी काम हो, हम सही से नहीं कर पाते।

खासकर ज्वाइंट पेन और जोड़ों के दर्द की समस्या की वजह से बुजुर्ग लोग अधिक प्रभावित होते हैं। क्योंकि बुढ़ापे में हड्डियां लगभग कमजोर हो जाती हैं। इस कारण से इनमें ग्रीस भी कम हो जाता है और ऐसे में बुजुर्गों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

जैसे एक ही स्थान पर अधिक समय तक बैठ गए, तो अब उठने में परेशानी, खड़े हो गए, तो चलने-फिरने में परेशानी, जुड़वा ले हिस्सों को दाएं बाएं माने या मोड़ने में परेशानी।

हमारी बॉडी के कई ऐसे हिस्से होते हैं, जो हड्डियों के रूप में आपस में जुड़े होते हैं और जब इनमें दर्द उठता है, तो इसे ही जोड़ों का दर्द (Joint Pain) कहते हैं। हमारी बॉडी के पार्ट कोई भी हो सकते हैं जैसे- कहानी, बाजू, कंधे, घुटने, कमर, कलाइयां, कूल्हे आदि।

अब इनमें दर्द क्यों होता है, तो इसे सिंपल या साधारण भाषा में समझाया जाए तो जब हमारी बॉडी में जोड़ो वाले हिस्सों की हड्डियों के बीच की ग्रीस खत्म हो जाती है तो हमारी बॉडी के जोड़ वाले पार्ट सही से काम नहीं कर पाते। इसी कारण हमें उठने-बैठने और शरीर को मोड़ने में तकलीफ होती है।

तो चलिए हम आपको बताते जोड़ों के दर्द की समस्या के उपाय

  1. मेथी के दानों को आप 10 से 20 ग्राम लेकर अच्छे से पीस लें। इसे पाउडर बनाने के बाद आप गुनगुने पानी के साथ लेप बनाकर दर्द वाले चोर की मालिश करें या कुछ देर के लिए लगाकर रखें। एक से डेढ़ महीना यह नुस्खा करें। आप के दर्द की समस्या खत्म हो जाएगी। मेथी का सेवन तो शरीर में टूटी हुई हड्डियों को जोड़ने के लिए भी किया जाता है।
  2. आगे बात करें तो लाल मिर्च के इस्तेमाल से भी आप जोड़ों के दर्द में आराम पा सकते हैं। दो लाल मिर्च को नारियल के गर्म तेल के साथ जोड़ों पर दर्द वाले हिस्से में मले। फिर से 15 मिनट तक ऐसे ही रहने दें और बाद में हटा दें। लेकिन इस बात का भी खास ध्यान रखें कि जले, कटे या छिले वाले हिस्से पर इसे ना लगाएं। वरना असहनीय जलन हो सकती है।
  3. आगे बात करें हल्दी की, तो हल्दी में भी बहुत से औषधीय गुण होते हैं। आप एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी पाउडर और एक ही चम्मच शहद मिलाकर हर रोज सोने से पहले या दिन में भी भोजन के आधे घंटे बाद पी सकते हैं। जोड़ों के दर्द का रामबाण इलाज है।
  4. इसके अलावा आप घर में ही कुछ उपाय या एक्टिविटी कर सकते हैं जैसे- कोशिश करें कि एक ही जगह पर अधिक देर तक मैं बैठे, चलने-फिरने में आलस न करें, कोई न कोई हल्का-फुल्का शारीरिक काम करते रहें, जिसे आप की हड्डियां एक्टिव रहे। कुल मिलाकर शरीर को खिलाते बुलाते रहे। इससे भी आप काफी हद तक जोड़ों के दर्द में राहत महसूस करेंगे।

तो दोस्तों अगर आप जोड़ों में दर्द की समस्या से जूझ रहे हैं तो ऊपर आपको जो भी नुस्खे बताये गये हैं इन्हें आप जरूर आजमायें। पक्केतौर पर आपको फायदा होगा।

ज्यादा तकलीफ है, तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

इसके अलावा हम आपको सूरज हर्बल की शुद्ध आयुर्वेदिक Suraj’s RheumOsur Powder और Suraj’s RheumOsur Capsules दवा की बहुत सारी विशेषताओं के बारे में बताएंगे जो आपके जोड़ों के दर्द में बहुत ज़ादा राहत देती है और साथ ही कमर दर्द, रीड की हड्डी का दर्द, सिर दर्द और हर प्रकार की मांसपेशियों के दर्द में लाभकारी है।

यह दवा शरीर में जमा यूरिक एसिड एवं हानिकारक तत्वों को निकाल बाहर करता है।

सूरज हर्बल की यह दवा मांसपेशियों व मांसपेशियों को पुठो ताकत देकर फालिज, लकवा, नकरस आदि के रोगियों के लिए लाभकारी है। यह दवा पाउडर और कैप्सूल्स दोनों फॉर्मेट में उपलब्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *