Immunity Power Badhane Ki Ayurvedic Dawa

इम्यूनिटी पाॅवर बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा

Immunity Power Badhane Ki Ayurvedic Dawa
Surajherbals.com

इस हिंदी पोस्ट में हम बात करेंगे इम्यून सिस्टम पाॅवर को बढ़ाने के घरेलू नुस्खों के बारे में। इम्यून पाॅवर यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता। ये हमारी बाॅडी में इम्यून सिस्टम ही होता है, जो हमें कई होने वाली छोटी-मोटी बीमारियों से बचाता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता जितनी अच्छी होती है, उतने ही हम अधिक स्वस्थ रहते हैं और रोग हमारे पास जल्दी नहीं फटकते, क्योंकि हल्की-फुल्की बीमारियों का सामना हमारा शरीर खुद ही कर लेता है और हमें बीमार होने से बचा लेता है।
अब आप समझ ही गय होंगे कि इम्यून सिस्टम का सही होना हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना जरूरी है। तो चलिए अब हम आपको रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के कुछ आसान से नुस्खों के बारे में बताते हैं।

आप यह हिंदी लेख Surajherbals.com पर पढ़ रहे हैं..

इम्यून पाॅवर बढ़ाने के लिए घरेलू नुस्खे-
1. इम्यून सिस्टम को स्वस्थ रखने के सबसे पहले उपाय में आप कच्चे लहसुन की दो से तीन कलियां रोजाना खायें। भोजन के रूप में भी इसका इस्तेमाल करना फायदेमंद रहता है।

2. दही खाना भी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में अच्छी सहायता करता है। दही के साथ भोजन करने से हमारा पाचन तंत्र भी बढ़िया रहता है।

Immunity Power Badhane Ki Ayurvedic Dawa

3. विटामिन की बात करें, तो विटामिन ‘डी’ लेने से भी हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। हड्डियों की मजबूती के लिए भी यह फायदेमंद रहता है और अगर आप दिल की बीमारियों से बचना चाहते हैं, तो विटामिन डी आपकी बहुत मदद कर सकता है।

4. कमजोर इम्यून सिस्टम को स्ट्राॅन्ग बनाने के लिए नींबू और आंवले का सेवन करना चाहिए। आप अपनी सुविधानुसार इसे किसी भी रूप में ले सकते हैं।

5. कई प्रकार के रोगों से लड़ने की क्षमता रखता है नीम। इसलिए नीम के इस्तेमाल से इम्यून सिस्टम भी बहुत ज्यादा स्ट्राॅन्ग हो जाता है। नीम का जूस पीना बहुत ही बढ़िया रहता है।

Surajherbals.com
Suraj’s ImmunOpower

दोस्तों अब आखिर में हम आपको बताते हैं एक बहुत ही असरदार और रामबाण आयुर्वेदिक दवा के बारे में। जिसका नाम है- Suraj’s ImmunOpower Powder। यह एक Pure Herbal आयुर्वेदिक दवा है, जो आपको पाउडर के रूप में मिलेगी। बड़ी जानदार और पाॅवरफुल दवा है। शुद्ध जड़ी-बूटियों से बनी हुई है, जिसका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है। यह दवा आपके इम्यून सिस्टम को स्ट्राॅन्ग करेगी, शरीर के अंदर विषैले पदार्थों को खत्म करेगी। संक्रामक रोगों से बचाती है, ठंड से होने वाली समस्याओं को दूर करती है और माइग्रेन के लिए भी दवा बहुत ही फायदेमंद है।

Pet Ki Gas Ke Gharelu Upay

पेट की गैस के घरेलू उपाय

इस हिंदी पोस्ट में हम आपको बता रहे हैं पेट की गैस की समस्या, इससे होने वाली परेशानियाँ और इसे दूर करने के बहुत ही आसान से घरेलू नुस्खों के बारे में।
आज की फास्ट और बिज़ी लाइफ के कारण बाहर का कुछ भी अनाप-शनाप और ज्यादा खाने की आदत से होने वाली गैस की समस्या बहुत ही आम बात हो गई है। लेकिन इसे हल्के में लेने की भूल करना भी पड़ सकता है भारी। गैस की अनदेखी करने से सीने में तेज जलन, सिर में भारीपन और दर्द यहां तक कि पूरे बदन में दर्द होने लगता है। कई बार तो गैस ज्यादा बनने से उल्टियां तक होने लगती हैं। इसलिए स्वास्थ्य के प्रति समझौता न करें और सजग रहें।

आप यह हिंदी लेख Surajherbal.com पर पढ़ रहे हैं..

तो चलिए अब हम आपको बताते हैं, कुछ बहुत ही आसान घरेलू नुस्खे, जिन्हें इस्तेमाल करने से आप पा सकेंगे अपनी गैस की समस्या से छुटकारा!

1. एक गिलास में साफ पानी लेकर इसमें एक नींबू का रस मिला लें और साथ में बेकिंग सोडा भी मिला लें। सुबह उठकर खाली पेट इस पानी को पियें। पूरे दिन गैस नहीं बनेगी।

2. गैस इसलिए भी बनती है, क्योंकि हमारा खाया-पीया सही से हज़म नहीं होता। इसलिए हाज़मे की शिकायत के लिए रोजाना काली मिर्च खायें और गैस दूर भगायें। आप दूध में भी काली मिर्च का इस्तेमाल करके पी सकते हैं, इससे भी गैस की समस्या नहीं रहती।

3. बहुत ज्यादा गैस बन रही है, तो एक गिलास छांछ में सेंधा नमक और अजवाइन मिलाकर पियें। गैस की समस्या में तुरन्त आराम मिल जायेगा और पूरे दिन में भी गैस नहीं बनेगी।

Pet Ki Gas Ke Gharelu Upay
Surajherbals.com

4. रोजाना गैस की शिकायत रहती है, तो एक बहुत ही बढ़िया नुस्खा हम आपको बता रहे हैं, इसे करें। दालचीनी को पानी में उबाल लें और ठंडा करने के बाद सुबह खाली पेट इसे रोजाना पियें। शहद मिलाकर पीने से और भी फायदा पहुंचता है।

5. गैस की समस्या से बचने की बात करें, तो तला-भुना या बाहर का ज्यादा न खायें। खाना समय पर और अच्छे से चबा कर खायें। भूख से थोड़ा कम ही खायें, इससे पाचन तंत्र भी सही रहता है।

Pet Ki Gas Ke Gharelu Upay
Surajherbals.com

ये तो रही नुस्खों की बात, अब हम आपको एक बहुत ही फायदेमंद और असरदार आयुर्वेदिक दवा (Ayurvedic Medicine) के बारे में बता रहे हैं। जन्हें गैस की बहुत ज्यादा समस्या बनी रहती है और कई उपाय करके हताश हो चुके हैं, वो इस दवा को ट्राई करके देख सकते हैं। इस दवा का नाम है- Suraj’s GasOsur Capsules यह दवा नेचुरल तरीके से बनाई गई है, शुद्ध जड़ी-बूटियों से बनी आयुर्वेदिक दवा है। यह कैप्सूल के रूप में आती है, जिसका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है।
यह दवा आपके पाचन तंत्र को ठीक करती है, कुछ भी खाया-पीया सही से हज़म (Digest) होता है, मेटाबाॅलिज्म को सुधारती है। इसके अलावा एसिडिटी (Acidity), सीने में जलन और कब्ज (Constipation) की शिकायत में भी यह दवा रामबाण का काम करती है। यह दवा इस प्रकार बनाई गई है कि हर वर्ग के लोग इसे ले सकते हैं। बहुत ही बढ़िया तरीके से यह दवा काम करती है। गैस की समस्या तो दूर होती ही है, पूरे दिन आपके अंदर चुस्ती-फुर्ती भी बनाये रखती है।
For Buy Pure Herbal Medicine Click this Link : Suraj’s GasOsur Capsules

Diabetes Ki Ayurvedic Dawa

डायबिटीज की आयुर्वेदिक दवा

डायबिटीज यानी शुगर। यह रोग दुनियां भर में लोगों के शरीर में अपनी पकड़ बना चुका है। जहां भी चले जाओ, शुगर नाम का जहर कह लें या प्रकोप हर जगह फैला हुआ है। बुर्जगों की बात तो छोड़ दें यह रोग युवाओं को भी अपनी चपेट में लेने से बाज नहीं आ रहा है।
डायबिटीज एक ऐसा रोग है, जो एक बार किसी का दामन पकड़ ले, तो फिर आसानी से नहीं छोड़ता। यह शरीर को अंदर से खोखला और बेजान बना देता है। डायबिटीज के शिकार लोगों की जिंदगी आम लोगों से बहुत मुश्किल हो जाती है। खाने-पीने के परहेज से लेकर पूरी लाइफ स्टाइल तक चेंज हो जाती है। कुल मिलाकर यह रोग जीना दूभर कर देता है।

आप यह हिंदी लेख Surajherbals.com पर पढ़ रहे हैं..

तो चलिए इस हिंदी लेख में हम आपको डायबिटीज से बचने और इसे कंट्रोल करने के आसान से घरेलू उपायों के बारे में बताते हैं..

1. करेला, डायबिटीज के रोगियों के लिए बहुत ही बढ़िया रहता है। रोजाना सुबह खाली पेट करेले का जूस पीने से शुगर कंट्रोल में रहता है। इसे सब्जी के रूप में ज्यादा खायें, फायदा होगा।

2. कलौंजी जी भी शुगर को कंट्रोल करने में बहुत ज्यादा मदद करती है। आप रोजाना 2 ग्राम कलौंजी खायें। इससे आपकी बॉडी में अच्छी मात्रा में इन्सुलिन बनेगा और पैन्क्रियाज़ भी सही से एक्टिव रहेगा।

Diabetes Ki Ayurvedic Dawa

3. बुर्जगों को अगर शुगर है तो वह रोजाना दो मूली काली मिर्च लगाकर खायें या फिर मूली का रस भी पी सकते हैं। इससे शुगर कंट्रोल में रहता है।

4. एक और बहुत ही आसान सा उपाय करें टमाटर, खीरा और करेला। इन तीनों का रात को जूस निकाल कर साफ बर्तन या शीशी में रख लें। सुबह खाली पेट इसे पी जायें। डायबिटीज का दुश्मन है ये नुस्खा। हर रोज यह नुस्खा करें, आपको बहुत फायदा होगा।

Diabetes Ki Ayurvedic Dawa
Surajherbals.com

इन नुस्खों के अलावा हम आपको डायबिटीज़ के लिए एक बहुत ही असरदार और फायदेमंद दवा लेने की सलाह देंगे। एक आयुर्वेदिक दवा आती है जिसका नाम है- Suraj’s DiabOsur. यह दवा पाउडर के रूप में आती है, जोकि पूरी तरह आयुर्वेदिक (Ayurvedic) है। शुद्ध जड़ी-बूटियों से बनी है, किसी भी प्रकार का स्टेरॉयड (Steroid) या केमिकल (Chemical) इसमें नहीं है और पूरी तरह सेफ (Safe) है। यानी इस दवा का कोई भी साइड इफेक्ट (Side Effect)आपको बिल्कुल नहीं होगा। 10 से 15 दिन में ही आपको खुद महसूस होने लगेगा कि आपकी समस्या कम हो रही है और धीरे-धीरे आपकी शुगर खुद-ब-खुद पूरी तरह कंट्रोल में हो जायेगी।

Bawaseer Ka Gharelu Upchar

बवासीर का घरेलू उपचार-

Piles (Haemorrhoids), Bawaseer Ka Ilaj, Khooni Bawasir Ki Medicine

बवासीर यानी पाइल्स। इस समस्या में गुदा मार्ग में छोटे-छोटे मस्से हो जाते हैं, जिनसे कभी-कभी खून भी रिसता है-जैसे मल त्याग के समय। इस समस्या को खूनी बवासीर कहते हैं। दूसरी होती है बादी बवासीर, जिसमें गुदा मार्ग में काले रंग के मस्से हो जाते हैं, लेकिन इनसे खून नहीं रिसता। केवल सूजन, दर्द और खुजली होती है। कुल मिलाकर बवीसर बहुत कष्टदायक होती है।
अगर कारण की बात करें तो जो सबसे ज्यादा बवासीर के लिए जिम्मेदार हैं, वो हैं एक तो कुर्सी पर अधिक देर तक यार लगातार बैठे रहने की आदत जैसे-आॅफिस दफ्तर वगैरह में। दूसरा, बिना किसी टाइम टेबल के बाहर का खाने की आदत, तला-भुना, ज्यादा मसालेदार तेज मिर्ची वाला खाना। यानी किसी भी समय कुछ गलत-सलत खा लेने की आदत।

आप यह हिंदी लेख Surajherbals.com पर पढ़ रहे हैं..

तो चलिए अब हम आपको बताते हैं बवासीर के कुछ घरेलू उपचार के बारे में..

Bawaseer Ka Gharelu Upchar
Surajherbals.com

1. केले को लेकर एक नुस्खा आपको करना है। रात को सोने से पहले एक केला लेकर उसे बीच से लंबा काट लें और फिर बीच में कत्था पीसकर लगा लें। रातभर केले को ऐसे ही रहने दे। सुबह शौच के बाद इस केले को खा लें। एक हफ्ते में ही कैसी भी बवासीर हो बिल्कुल ठीक हो जाती है।

2. अगला नुस्खा भी बिल्कुल सेम ही ही है। बस इसमें आपको केले की जगह नींबू का प्रयोग करना है। रात को नींबू को बीच से काटकर इसमें कत्था लगा दीजिए। फिर सुबह शौच वगैरह के बाद इस नीबूं के रस को चाटें। यह उपाय आपकी खूनी बवासीर को कुछ ही दिनों में पूरी तरह स्वस्थ कर देगा।

3 छांछ को लेकर आप एक नुस्खा तैयार करें। लगभग दो लीटर छांछ में आप 25 से 30 ग्राम पीसा हुआ जीरा और थोड़ा-सा सेंधा नमक मिलाकर इसे पिएं। सप्ताह भर में ही आपके गुदा के मस्से, काले हों या लाल बिल्कुल ठीक जायेंगे। बस पानी कम यह छांछा सप्ताह भर तक प्रयोग करें और फायदा खुद देखें।

तो प्रिय पाठकों आप इन नुस्खों को प्रयोग करें, आपकी पाइल्स की समस्या में बहुत आराम देंगे। आखिर में जाते-जाते बवासीर के लिए एक बहुत ही असरदार और दमदार आयुर्वेदिक दवा के बारे में आपको बताना चाहेंगे। जिसका नाम है- Suraj’s PylOsur (सूरज पाइल ओ श्योर)। यह दवा कैसी भी बवासीर हो, जड़ से खत्म कर देती है और दोबार नहीं होने देती। Suraj’s PylOsur एक प्योर (शुद्ध) आयुर्वेदिक दवा है, जो शुद्ध जड़ी बूटियों से बनाई गई है। यह दवा दो रूपो में आती है-एक पाउडर के रूप में, दूसरा कैप्सूल के रूप में। दोनों ही दवाओं में किसी भी प्रकार का एस्ट्राॅयड या केमिकल का प्रयोग नहीं किया गया है, पूरी तरह आयुर्वेदिक हैं, इसलिए इनका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। यह दवा 2 से 3 दिन में ही गजब का असर करना शुरू कर देती है। बवासीर में होने वाले दर्द और सूजन को पूरी तरह दूर करती है, कब्ज बवासीर में बहुत तकलीफ देता है, इसलिए यह दवा कब्ज को भी दूर करती है, मस्सों में घाव को दूर करती है और खून के रिसाव को रोकती है। सबसे बड़ी बात… आपके पाचन तंत्र में भी सुधार करती है, जिससे आपको शौच आराम से और समय पर होती है।

Pathri Ka Gharelu Upay

पथरी का घरेलू उपाय

Kidney Stones Treatment, Pathri Ka Ilaj, Kidney Stones Removal

इस हिंदी लेख में हम आपको बतायें स्टोन किडनी के शुरूआती लक्षणों में ही कर देने वाले घरेलू इलाज के बारे में..
किडनी स्टोन हमारे स्वास्थ्य को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए हम अपनी सेहत की ओर चैकन्ने रहकर अगर किडनी स्टोन को शुरूआती लक्षणों में ही पहचान लें, तो इसे हम घरेलू उपायों से ही आसानी से रोेक सकते हैं।
हमारे खान-पान का गलत रव्वैया हमारी किडनी के लिए नुकसानदायक हो सकता है और अधिकतर इसी के चलते हमें किडनी को लेकर कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जिनमें से एक दिक्कत या समस्या है किडनी स्टोन।

आप यह हिंदी लेख Surajherbals.com पर पढ़ रहे हैं..

यूं तो स्टोन निकालने के लिए अक्सर डाॅक्टर्स को सर्जरी या आॅपरेशन की जरूर पड़ती है, लेकिन यहां यह हम आपको बता रहे हैं किडनी स्टोन के इलाज के लिए बहुत ही आसान से घरेलू नुस्खों के बारे में..

1. पानी भरपूर मात्रा में पीयें:
जल ही जीवन है कि कहावत तो हम सभी ने सुनी है। तो शायद यह भी आपने सुना ही होगा कि हमारी बाॅडी में 70 प्रतिशत हिस्सा पानी से बना है। आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि पानी हमारी सेहत के लिए कितना जरूरी है। आप पूरे दिन में लगभग 7 से 8 गिलास पानी जरूर पीयें। इससे यूरिन पास करते समय स्टोन भी पास होता है और हमें किडनी स्टोन में आराम मिलता है।

Pathri Ka Gharelu Upay

2. नींबू और जैतुन आयल:
नींबू और जैतुन ऑइल के इस्तेमाल से आपको किडनी स्टोन को बाहर निकालने में बहुत मदद मिलेगी। इसके लिए आप नींबू के रस में जैतुन का तेल का मिलाकर इसे रोजाना लें। इससे होगा यह कि नींबू का रस स्टोन को अंदर चूरे करने में मदद करेगा और जैतुन का तेल इन बारीक चूरों को मल-मूत्र के रास्ते बाहर निकालने का काम करेगा।

3. सेब का सिरका:
कई बार देखा गया है कि सेब का सिरका लेने से किडनी स्टोन जड़ से खत्म हो जाती है। लेकिन इसे कितनी मात्रा में लेना है इसका ध्यान बहुत जरूरी रखना है आपको। इसके लिए आप गर्म या गुनगुने पानी में यह सिरका को छोटे-छोटे चम्मच मिलाकर लें, रोजाना लें। सेब के रस में मौजूद स्ट्रीक एसिड, स्टोन को बारीक टुकड़ों में बदलकर इसे बाहर निकाल देगा। हमारी विशेषतौर पर सलाह है कि एक बार यह उपाय करने से पहले डाॅक्टर से परामर्श अवश्य कर लें।

4. अनार का जूस पीयें:
शरीर में पानी की कमी न हो इसके लिए आप अनार का जूस पियें। इससे आप नेचुरल तरीके से किडनी स्टोन में आराम पा सकेंगे।

Pathri Ka Gharelu Upay
Surajherbals.com

अगर आप काफी समय से किडनी स्टोन से दुखी और परेशान हैं और चाहते हैं कि यह जड़ से खत्म हो जाये, तो हम आपको बता रहे हैं एक बहुत ही उपयोगी दवा के बारे में जिसका नाम है- सूरज स्टोन ओ श्योर। यह दवा इसी नाम से पाउडर और कैप्सूल दोनों रूपों में आती है। यानी सूरज स्टोन ओ श्योर पाउडर और सूरज स्टाॅन ओ श्योर कैप्सूल। यह दोनों दवायें शुद्ध जड़ी बूटियों से बनी आयुर्वेदिक दवायें हैं, जिनका किसी भी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं है। यह दवा शरीर में स्टोन (पथरी) को तोड़ने और घोलने का काम करती है। पेशाब के प्रेशर को बढ़ाती है, जिससे टूटी हुई स्टोन पेशाब में आसानी से घुलकर बाहर निकल जाती है। इसके अलावा किडनी को स्वस्थ रखती है और सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह किडनी में स्टोन को दोबारा बनने से रोकती है।

Vajan Kam Karne Ki Dawa

वजन कम करने की दवा

Weight Loss, Obesity, Motapa Kam Kaise Kare, Vajan Kaise Ghataye

मोटापा और बढ़ा हुआ वजन व्यक्ति को कई तरह की परेशानियों और रोग से घेर लेते हैं। इसके अलावा अपने बढ़ते वजन और मोटापे के कारण व्यक्ति की पर्सनेलिटी भी बिगड़ जाती है। थोड़ी शारीरिक मेहनत करने से ही मोटे लोग हांफने लगते हैं, आलसपन के शिकार होते हैं, सीढ़ियां चढ़ने-उतरने में इनकी आफत-सी आ जाती है। कुल मिलाकर इनकी पूरी लाइफ स्टाइल की डांवाडोल हो जाती है।

आप यह हिंदी लेख Surajherbals.com पर पढ़ रहे हैं..

इस हिंदी लेख में हम आपको बता रहे हैं मोटापा और वजन कम करने के आसान घरेलू नुस्खों के बारे में..

घरेलू नुस्खों से करें मोटा और वजन कम-

Vajan Kam Karne Ki Dawa
Surajherbals.com

1 अगर आप अपने बढ़े हुए वजन से हैं परेशान और कमर के आसपास की चर्बी भी बढ़ी हुई है। तो आप इन्हें कम करने के लिए यह उपाय करें। जब भी आप रात को सोयें तो उससे पहले 2-3 इलायची मुंह में डाल लें। कुछ मिनट बाद ऊपर गरम गुनगुना पानी पी लें। इस उपाय से कुछ ही दिनों में वजन बहुत ज्यादा कम हो जायेगा और एक्स्ट्रा चर्बी भी नहीं रहेगी।

2. इस अगले उपाय को अगर आप एक महीने तक कर लें तो आपका वजन 4 से 5 किलो तक कम हो जायेगा। 20 ग्राम धनिया और एक छोटा टुकड़ा अदरक का लें और इन दोनों को साथ में पीस लें। इसके बाद इसे एक गिलास पानी में डालकर गरम कर लें। फिर पानी के गुनगुना होने के बाद इसमें नींबू का रस और एक चम्मच एलोविरा का जूस भी मिला लें। अब इसे पी जायें। बहुत ही लाजवाब नुस्खा है वजन करने का।
इसे लगातार पीने से एक ही माह में आसानी से 3-4 किलो वजन कम होता है।

3. हर रोज सुबह उठकर खाली पेट गर्म पानी पीयें। जब आप पानी को गर्म करें, तो इसमें 2 चम्मच नींबू का रस और एक छोटा चम्मच अजवाइन मिला लें। फिर लगभग 5 से 10 मिनट बाद इस पानी को पिएं। मगर ध्यान रखे पानी गरम ही रहना चाहिए। इस नुस्खो को करने से 10 से 15 दिन के अंदर 2 से 3 किलो वजन घट जाता है। इसके अलावा खून साफ होता है, पेट साफ रहता है, जिससे पेट से संबंधित कोई रोग नहीं होता, कब्ज की शिकायत के लिए यह भी यह नुस्खा बहुत फायदेमंद है।

Vajan Kam Karne Ki Dawa

4. पेट और कमर की बढ़ी हुई चर्बी को मात्र एक हफ्ते के अंदर कम करने के लिए आप यह उपाय करें। सूखा पिसा हुआ धनिया, मिश्री और मोटी सौंफ इन तीनों की बराबर क्वान्टिटी लेकर अच्छे से पीस लें। जब यह चूर्ण की तरह हो जाये, तो इस चूर्ण को सुबह-शाम एक-एक चम्मच गुनगुने पानी के साथ लें। चर्बी छू मंतर हो जायेगी।

जो लोग दवा खाने में विश्वास रखते हैं और चाहते हैं जल्द से जल्द उनका बढ़ा हुआ वजन और मोटापा कम हो जाये, उनके लिए हम एक आयुर्वेदिक दवा की सलाह देते हैं, जिसका नाम है Suraj’s Weight Loss Powder, जोकि पाउडर के रूप में आती है। इसके अलावा Suraj’s SlimOsur Capsule कैप्सूल भी आता है। ये दोनों ही आयुर्वेदिक दवाएं हैं, जो शुद्ध जड़ी बूटियों से बनाई गई हैं। इनका कोई भी साईड इफेक्ट नहीं होता है। इन आयुर्वेदिक दवाओं के इस्तेमाल से मोटापा, पेट और कमर की बढ़ी हुई एक्स्ट्रा चर्बी 10 से 15 दिन में कम हो जाती है और आप एकदम फिट, हेल्दी और स्मार्ट दिखने लगते हैं। इसके अलावा यह आपके अंदर चुस्ती-फुर्ती बनाये रखती हैं, आपको अंदर से फिट रखती है और चेहरा भी नेचुरल तरीके से खिला हुआ लगता है।

Sex Power Badhane Ki Ayurvedic Dawa

सेक्स पाॅवर बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा-

Sex Power, Sex Samasya, Sex Problem

कहीं आप सेक्स कमजोरी के शिकार तो नहीं, क्या आपका जोश और स्टेमिना हो चुका है पूरी तरह ठंडा, क्या सेक्स के समय जल्दी थक जाते हैं, कमजोरी महसूस होती है और सबसे आखिर में क्या हर रात होना पड़ता है आपको पत्नी या स्त्री के सामने शर्मिन्दा? अगर आपका जवाब हैं हां, तो अब आपको मायूस और हताश होने की बिल्कुल जरूरत नहीं।
क्योंकि हम आपको बता रहे हैं इस हिंदी लेख में सेक्स स्टेमिना और पाॅवर बढ़ाने के बहुत ही छोटे और आसान से घरेलु नुस्खों के बारे में..

सेक्स स्टेमिना बढ़ाने के घरेलू उपाय-

Sex Power Badhane Ki Ayurvedic Dawa
Surajherbals.com

1. पहला ही उपाय इतना आसान है कि आधा जोश तो आपको नुस्खा जानकार ही आ जायेगा। आपको बस इतना करना है कि अदरक और प्याज का रस निकाल कर दोनों को मिला लें और इस रस में इतनी ही मात्रा में शहद और घी भी मिला लें और हो गया आपका नुस्खा तैयार। इस नुस्खे को आप 15 से 20 दिन सेवन करें। रात खत्म हो जायेगी, लेकिन जोश खत्म नहीं होगा।

2. पत्नी से मिलन करने के लगभग एक या फिर आधा घंटा पहले लहसुन की दो कच्ची कलियां खा लें और ऊपर से साफ पानी या फिर गुनगुना दूध पी लें। फिर देखना रूकने नहीं नाम नहीं लेंगे आप।

3. आगे एक और पलंग तोड़ नुस्खे की बात करें, तो सूखे आंवलों को पीसकर बारीक चूर्ण बना लें। अब इस इस चूर्ण में थोड़ी पीसी हुई मिश्री मिला लें। संभोग से पहले पानी के साथ इस चूर्ण को खायें। पूरी रात ना खुद सायेंगे और न ही अपनी पार्टनर को सोने देंगे।

Sex Power Badhane Ki Ayurvedic Dawa

4.. आगे बात करते हैं केले की। रोजाना सुबह-शाम दो-दो केले दूध के साथ खायें। इससे ताकत, जोश और स्टेमिना तीनों में बहुत फरक महसूस होगा। सेक्स के समय या बाद में थकावट और कमजोरी महसूस नहीं होगी।

ऊपर बताये गये इन नुस्खों को आप जरूर आजमा कर देखें। नुस्खे छोटे हैं, लेकिन असर बहुत ही बड़े हैं।

आखिर में एक सलाह और देना चाहेंगे जो लोग अपनी सेक्स कमजोरी को जड़ से खत्म कर देना चाहते हैं, वो एक बार ‘काम गोल्ड कैप्सूल’ को ट्राई करके देख सकते हैं।
‘काम-गोल्ड’ कैप्सूल एक आयुर्वेदिक दवा है, जो बिल्कुल शुद्ध जड़ी बूटियों से बनी है, इसलिए इसे खाने से किसी भी तरह का कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता है। यह दवा जोश और स्टेमिना को बढ़ाने के साथ-साथ दिमाग को भी कंट्रोल में करती है, शांत रखती है और आप सेक्स को बड़े ही आराम से और पूरा एन्ज्वाॅय कर पाते हैं। इसके अलावा पूरी बाॅडी में ब्लड सर्कुलेशन को बनाये रखती है, कमजोरी को दूर करती है, थकावट महसूस नहीं होने देती और एनर्जी भी बनी रहती है। इस दवा की सबसे खास बात यह है इसे बुर्जुग भी बिना किसी टेंशन के खा सकते हैं। यह दवा उन पर भी उनके उम्र के हिसाब से काम करती है।
बाकी आप पर कोई दबाव या मजबूर नहीं कर रहा, बल्कि शुभचिंतक के तौर पर आपको केवल सलाह दे रहा हूं, बाकी दवा लेना ना लेना आपकी मर्जी पर निर्भर करता है।

Sharab Chudane Ki Dawa

शराब छुड़ाने की दवा

Addiction Killer Powder, Sharab Chudane Ki Dawa, Sharab Kaise Chode

शराब शराब शराब! जी हां, हर शराबी व्यक्ति की जुबान पर यही नाम रटा होता है शराब। आखिर क्यों पीते हैं शराब? कैसे पड़ गई इन्हें लत? भगवान जाने कब छूटेगी ये पीने की आदत। ऐसे ही न जाने कितने ही विचार दिमाग में आंधी की तरह तबाही मचा देते हैं। और ऐसा तब होता है जब हम किसी अपने, करीबी या किसी ऐसे खास को जिससे हमारा गहरा दिली लगाव होता है, को दिन-रात शराब के नशे में डूबा देखते हैं और लाख समझाने के बावजूद आप उनकी शराब की आदत नहीं छुड़वा पाते।

आप यह हिंदी लेख Surajherbals.com पर पढ़ रहे हैं..
Sharab Chudane Ki Dawa

अगर आप भी ऐसे ही किसी अपने जैसे- परिवार में पति, भाई, पिता या कोई प्रियजन की शराब पीने की आदत से दुखी और परेशान हैं और उनकी शराब की आदत बिना उन्हें बताये छुड़ाना चाहते हैं, तो ये हिंदी लेख आ सकता है आपके बहुत काम। जानने के लिए यह लेख पूरा पढ़ें।

इस हिंदी लेख में हम आपको बता रहे हैं एक ऐसी आयुर्वेदिक दवा के बारे में जिसे अगर आप शराबी व्यक्ति को उसके खाने-पीने की वीजों में मिलाकर दे दें, तो शराबी की पीने की आदत 10 से 15 दिन में ही छूटनी शुरू हो जाती है और धीरे-धीरे पूरी तरह छूट जाती है।

Sharab Chudane Ki Dawa

प्रिय पाठकों, इस दवा का नाम है- Suraj’s AddictOsur Powder। यह शुद्ध जड़ी-बूटियों से बनी आयुर्वेदिक दवा है जोकि पाउडर के रूप में आती है। पूरी तरह आयुर्वेदिक होने के कारण इसको लेने से कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता है। Suraj’s AddictOsur Powder की सबसे बड़ी खास बात यह है कि यह शराबी के दिमाग को भी कंट्रोल में रखता है, जिससे उसकी विल पाॅवर (Will Power) स्ट्राॅन्ग होती है और शराबी को शराब छोड़ने में आसानी होती है। इस दवा की एक क्वालिटी यह भी है कि शराबी को चुपके से उसके खाने में यह दवा मिलाकर देने से इसके टेस्ट का उसको एहसास तक नहीं होता। शराबी खुशी से खाना खा लेता है और यह उपाय करते रहने से कुछ ही दिनों में शराबी की पीने की आदत हमेशा के लिए छूट जाती है।
आप भी एक बार इस दवा जिसका नाम है- Suraj’s AddictOsur Powder, को जरूर आजमायें। मेरा विश्वास है आपके घर की खुशियां भी जरूर लौट आयेंगी।

Joint Pain Ki Ayurvedic Dawa

जाॅइंट पैन की आयुर्वेदिक दवा-

Joint Pain, Arthritis Treatment, Jodo Ka Dard

जाॅइंट पैन (Joint Pain) यानी जोड़ों के दर्द की समस्या आज किसी एक वर्ग के लिए नही, बल्कि हर वर्ग के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन चुका है। जाॅइंट पैन की वजह से उठने-बैठने, चलने-फिरने, खासकर सीढ़ियां चढ़ने-उतरने में बहुत परेशानी होती है। घरेलू या आफिस कोई भी काम हो, हम सही से नहीं कर पाते।

आप यह हिंदी लेख Surajherbals.com पर पढ़ रहे हैं..

प्रिय पाठकों बता दें कि हमारी बाॅडी के कई ऐसे हिस्से होते हैं, जो हड्डियों के रूप में आपस में जुड़े होते हैं और जब इनमें दर्द उठता है, तो इसे ही जोड़ों का दर्द (Joint Pain) कहते हैं। हमारी बाॅडी के पार्ट कोई भी हो सकते हैं जैसे- कोहनी, बाजू, कंधे, घुटने, कमर, कलाईयां, कूल्हे आदि।

अब इनमें दर्द क्यों होता है, तो इसे सिम्पल या साधारण भाषा में समझाया जाये तो जब हमारी बाॅडी मेें जोड़ों वाले हिस्सों की हड्डियों के बीच की ग्रीस खत्म हो जाती है या बहुत कम हो जाती है, तो हमारी बाॅडी के जोड़ वाले पार्ट सही से काम नहीं कर पाते। इसी कारण हमें उठने-बैठने और शरीर को मोड़ने में तकलीफ होती है।

तो चलिए हम आपको बताते हैं कुछ गजब के नुस्खों के बारे में जिन्हें आप जरूर आजमायें..
Joint Pain Ki Ayurvedic Dawa

1. मेथी के दानों को आप 10 से 20 ग्राम लेकर अच्छे से पीस लें। इसे पाउडर बनाने के बाद आप गुनगुने पानी के साथ लेप बनाकर दर्द वाले जोड़ की मालिश करें या कुछ देर के लिए लगाकर रखें। एक से डेढ़ महीना आप ये नुस्खा करें। आपके दर्द की समस्या खत्म हो जायेगी। मेथी का सेवन तो शरीर में टूटी हुई हड्डियों को जोड़ने के लिए भी किया जाता है।

2. आगे बात करें तो लाल मिर्च के इस्तेमाल से भी आप जोड़ों के दर्द में आराम पा सकते हैं। दो लाल मिर्च को नारियल के गरम तेल के साथ जोड़ों पर दर्द वाले हिस्से में मलें। फिर इसे 15 मिनट तक ऐसे ही रहने दें और बाद में हटा दें। लेकिन इस बात का भी खास ध्यान रखें कि जले, कटे या छिले वाले हिस्से पर इसे ना लगायें। वरना असहनीय जलन हो सकती है।

Joint Pain Ki Ayurvedic Dawa

3. आगे बात करें हल्दी की, तो हल्दी में भी बहुत से औषधिए गुण होते हैं। आप एक गिलास गरम दूण्ध में एक चम्मच हल्दी पाउडर और एक ही चम्मच शहद मिलाकर हर रोज सोने से पहले या दिन में भी भोजन के आधे घंटे बाद पी सकते हैं। जोड़ों के दर्द का रामबाण इलाज है।

4. इसके अलावा घर में ही आप कुछ उपाया या एक्टिविटी कर सकते हैं जैसे- कोशिश करें कि एक ही जगह पर अधिक देर तक न बैठें, चलने-फिरने में आलस न करें, कोई-न-कोई हल्का-फुल्का शारीरिक काम करते रहें, जिससे आपकी बोन्स एक्टिव रहे। कुल मिलाकर शरीर को हिलाते-डुलाते रहें। इससे भी आप काफी हद तक जोड़ों के दर्द में राहत महसूस करेंगे।

तो दोस्तों ऊपर आपको जो भी नुस्खे बताये गये हैं, इन्हें आप जरूर आजमायें। पक्केतौर पर आपको फायदा होगा। ज्यादा तकलीफ है, तो डाॅक्टर से सलाह जरूर लें।

Sehat Banane Ke Gharelu Upay

सेहत बनाने के घरेलू उपाय-

प्रिय पाठकों इस हिंदी लेख में हम बात करेंगे सेहत और वजन बढ़ाने के बारे में। सेहतमंद रहना और स्वस्थ जीवन जीना हम सभी की पहली और मुख्य आवश्यकता है। आज हर व्यक्ति चाहे वो किसी भी वर्ग का हो, फिट बाॅडी और अच्छी पर्सनेलिटी पाने की ख्वाहिश रखता है।
लेकिन आज के दौर में कई ऐसे लोेग हैं जो अपने दुबलेपन और कमजोर शरीर के कारण दुखी और निराश हैं। दुबलेपन के कई कारण हो सकते हैं जैसे- पौष्टिक आहार की कमी, असंयमित खान-पान, बिगड़ी हुई लाइफ स्टाइल, अत्यधिक चिंता व तनाव, नींद पूरी न होना या फिर यह अनुवांशिक भी हो सकता है। क्योंकि कई लोग इसलिए भी दुबले रहते हैं, क्योंकि उनके परिवार में कोई सदस्य ऐसा होता है, जो शुरू से ही बहुत दुबला-पतला होता है, तो जेनेटिक रूप से यह गुण नवजात शिशु पर भी चले जाते हैं और वह भी दुबलेपन का शिकार हो जाता है।

यह हिंदी लेख आप पर Surajherbals.com पढ़ रहे हैं..

कारण चाहे जो भी मगर दुबलापन किसी भी प्रकार से व्यक्ति के लिए अच्छा नहीं होता है। दुबलापन व्यक्ति की पर्सनेलिटी को तो प्रभावित करता ही है, साथ ही कमजोर शरीर के कारण व्यक्ति कई प्रकार के रोगों से घिरा रहता है।

ऊपर बताये गये तथ्यों से यह तो आप जान ही गये होंगे कि सेहतमंद और स्वस्थ रहना हम सभी के लिए कितना जरूरी है। तो चलिए अब जानते हैं अच्छी सेहत पाने के आसान घरेलू उपायों के बारे में..

सेहत बनायें, वजन बढ़ायें-
Ssehat Banane Ke Gharelu Upay

1. कसरत करें-
अच्छी सेहत पाने का सबसे बढ़िया और सरल उपाय है रोजाना कसरत करना। आप कसरत या व्यायाम के लिए रोजाना कम-से-कम आधा घण्टा जरूर निकालें, जिसमें पुशअप, लटकना, क्षमता के अनुसार वजन उठाना आदि कर सकते हैं।

2. नशे की आदत छोड़ें-
अगर वाकई आप सेहत बनाना चाहते हैं तो किसी भी तरह का नशा करना छोड़ दें। जैसे- शराब, बीड़ी, सिगरेट, तम्बाकू आदि, क्योंकि नशा आपकी सेहत का सबसे बड़ा दुश्मन है।

3. योगा करें-
योगा करने से आपका मन शांत और दिमाग दुरूस्त रहता है और मन-दिमाग दुरूस्त रहने से आपकी सेहत खुद-ब-खुद दुरूस्त रहेगी। योगा के लिए आप किसी योग गुरू या एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

Sehat Banane Ke Gharelu Upay

4. चिंता से दूर रहें-
कहते हैं चिंता, चिता समान होती है। इसलिए सेहत बनाने के लिए सबसे जरूरी है आप खुद को फ्री माईन्ड रखें। ज्यादा चिंता करने से कितना भी अच्छा खाया-पीया हो, शरीर को नहीं लगता।

5. पानी ज्यादा पीएं-
याद रखें सेहत के लिए जितना जरूरी भोजन है, पानी भी उतना ही जरूरी है। व्यक्ति को पूरे दिन में 3 से 4 लीटर पानी पीना चाहिए। पानी आपके पेट की गंदगी को साफ करता है, पाचन क्रिया को ठीक रखता है, किडनी के लिए भी पानी फायदेमंद है। इसके अलावा चेहरे की रौनक बढ़ाने में भी पानी अच्छा होता है। इसलिए पानी खूब पीयें।

6. नींद भी है जरूरी-
अच्छा खाने-पीने के अलावा, अच्छी, गहरी और पूरी नींद लेना भी बहुत जरूरी है, इसलिए सेहतमंद और स्वस्थ रहने के लिए आपको चाहिए कि 8 घण्टे आप जरूर नींद लें। इसके आपके शरीर को पूरा आराम मिलेगा। भोजन को पचने का पूरा समय मिलेगा, जिससे खाया-पीया शरीर को लगेगा।