Home > Men Health and wellness > 10 Benefits of Eating Garlic – लहसुन खाने के फायदे
Benefits of Eating Garlic - लहसुन खाने के फायदे

10 Benefits of Eating Garlic – लहसुन खाने के फायदे

लहसुन को भोजन का स्वाद बढ़ाने के अतिरिक्त औषधि के रूप में भी जाना जाता है और माना जाता है। लहसुन में बहुत से औषधिए गुण होते हैं, जिनसे कई प्रकार के रोगों में आराम प्राप्त होता है। कोई समय हुआ करता था, जब आज के आधुनिक दौर की तरह हर स्थान पर दवाईयों की दुकानें नहीं हुआ करती थीं। उस समय लहसुन को आयुर्वेदिक उपचार की तरह इस्तेमाल किया जाता था।

आप इस हिंदी लेख में जानेंगे कि किस प्रकार लहसुन के औषधिए गुण मानव के शरीर और स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डालने में सक्षम हैं।

सामग्री तालिका

लहसुन के औषधिए गुण क्या हैं?

लहसुन में बहुत से औषधिए गुण हैं जैसे कि इसमें एंटी आॅक्सीडेंट, एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल गुणों की भरमार होती है। इसके अलावा लहसुन में एलीसीन, सल्फर  एजोइन और एलीन भी उपलब्ध होते हैं, जिस कारण से लहुसन और भी अधिक प्रभावशाली औषधि बन जाती है। इन सभी गुणों के कारण ही लहसुन का स्वाद थोड़ा तीखा व कड़वा होता है, लेकिन यह भी सत्य है कि इन सभी गुणों के कारण ही लहसुन संक्रमण की समस्या को दूर करने में बहुत ही प्रभावशाली होता है।

लहुसन से होने वाले स्वास्थ्य लाभ क्या हैं?

जैसे कि हमने उपरोक्त भी लहसुन के औषधिए गुणों का उल्लेख किया है, जिसके बहुत फायदे हैं। आयुर्वेद में तो लहुसन को औषधि की उपाधि दी गई है। पुरानी आयुर्वेदिक चिकित्सा व आधुनिक आयुर्वेदिक चिकित्सा के अनुसार व्यक्ति को लहसुन का उपयोग अपने भोजन में अवश्य करना चाहिए। किसी भी रूप में लहसुन को अपने आहार में शामिल जरूर करें। विशेषकर सुबह के समय खाली पेट लहसुन का सेवन बहुत अधिक फायदेमंद होता है।

बता दें कि लहसुन अपने आप में किसी गंभीर रोग का पूर्ण इलाज नहीं है, लेकिन इससे काफी हद तक रोग के नकारात्मक प्रभाव को कम जरूर किया जा सकता है।

ज़रूर पढ़ें : महिलाओं में उत्तेजना की कमी और लिबिडो बढ़ाने के घरेलू उपाय

आइए लहुसन के फायदे जानते हैं

1. पुरूषों में स्टेमिना और पाॅवर बढ़ाता है लहसुन

Garlic increases stamina and power in men

लहसुन में एक ऐसा गुण होता है, जो पुरूषों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के बढ़ाता है, जिस कारण पुरूषों में सेक्स कमजोरी और सेक्स इच्छा की कमी दूर होती है। इसके अलावा लहसुन, रक्त संचार को बढ़ाने में भी सक्षम है, जिससे लिंग की नसों में भी खून पहुंचता है और लिंग में भरपूर तनाव आता है। कुल मिलाकर पौरूष शक्ति बढ़ाकर सेक्स लाइफ को बेहतर बनाता है लहसुन।

ज़रूर देखें : SWAPANDOSH KA ILAJ – नाइट फॉल की समस्या का इलाज

2. वजन कम करने में काम आता है लहसुन

वजन कम करने में काम आता है लहसुन

मोटापे के शिकार लोग अपना मोटापा व वजन कम करना चाहते हैं, तो लहसुन कुछ हद तक आपके काम आ सकता है। लहसुन में एंटी ओबेसिटी गुण भी होता है, जो मोटापे को कंट्रोल करने में मददगार साबित हो सकता है।

इसके अतिरिक्त लहसुन में एक विशेष गुण होता है जिसका नाम है- ‘थर्मोजेनेसिस’ (Thermogenesis).

इस गुण के कारण लहसुन का सेवन शरीर में तीव्र उष्णता उत्पन्न करता है जिसे काफी अधिक मात्रा में फैट बर्न हो जाता है।

इसे ज़रूर पढ़ें : मोटापा कम करने के 5 उपाय

3. हाई ब्लड प्रेशर का लेवल कंट्रोल करता है लहसुन

उच्च रक्तचाप यानी हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रण करने में लहसुन एक बहुत ही बढ़िया घरेलू उपाय है। रोजाना सुबह खाली पेट लहसुन खाने ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहता है। क्योंकि लहसुन में हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में करने का गुण मौजूद होता है-जैसे बायोएक्टिव सल्फर यौगिक व एस-एललिस्सीस्टीन।

4. डायबिटीज़ को कंट्रोल करने में मदद करता है लहसुन

डायबिटीज यानी मधुमेह के शिकार लोगों को अपने आहार में लहसुन को जरूर शामिल करना चाहिए। इससे काफी हद तक शुगर कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है।

एक शोध के अनुसार लगातार दो हफ्तों तक अगर मधुमेह रोगियों द्वारा लहसुन को कच्चा सेवन किया जाये, तो उनके शुगर का लेवल नियंत्रण में आ जाता है। चूँकि लहसुन में एंटी डायबिटिक गुण भी होता है, इसलिए लहसुन का सेवन मधुमेह के गंभीर परिणाम को कम करने में मददगार साबित हो सकता है।

ये देखें : DIABETES KA DESI ILAJ

5. हड्डियों व गठिया की समस्या में लहसुन

कच्चा लहसुन खाने से या फिर लहसुन से बनी देशी दवा या घरेलू उपाय करने से हड्डियों से जुड़ी समस्या ठीक हो सकती है। क्योंकि लहसुन का सेवन शरीर में कैल्शियम के अवशोषण में मदद कर सकता है, जिससे कमजोर हड्डियों को बल मिलता है। इसके अतिरिक्त लहसुन के सेवन से गठिया का जोखिम कम हो सकता है।

6. रोग-प्रतिरोधक क्षमता के लिए लहसुन

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी लहसुन की कली खाना बहुत फायदेमंद साबित होता है। लहसुन में कई प्रकार के यौगिक गुण मौजूद होते हैं, जो इम्युन पाॅवर को स्ट्राॅन्ग रखने में मदद करते हैं। एक अध्ययन से यह भी ज्ञात हुआ कि लहसुन का सेवन करने शरीर में कई तरह की प्रतिरक्षा कोशिकाओं की संख्या में वृद्धि हो सकती है।

7. पेट के रोग दूर करता है लहसुन

आज बिगड़ी हुई लाइफस्टाइल और गलत खान के कारण पेट की समस्याएं भी लोगों में बहुत बढ़ती जा रही हैं, जिनमें कब्ज, डायरिया और एसिडिटी मुख्य हैं। ऐसे में लहसुन बहुत उपयोग साबित होता है। कब्ज और डायरिया को ठीक करने के लिए एक गिलास पानी में 4 से 5 लहसुन की कलियाँ डालकर पानी को अच्छे से उबाल लें। बाद में इस पानी के ठंडा हो जाने पर इसे पी लें।

8. हार्ट से जुड़ी बीमारियां ठीक करता है लहसुन

लहसुन दिल से संबंधित समस्याओं को भी दूर करता है। लहसुन खाने से खून का जमाव नहीं होता है और हार्ट अटैक होने का खतरा कम हो जाता है।

हार्ट से जुड़ी बीमारियां काफी हद तक लहसुन के सेवन से कम हो जाती हैं। लहसुन शरीर में रक्त के संचार को तेज करके ठीक रखता है। खून के थक्के नहीं बनते, जिससे हार्ट में भी खून का प्रवाह सही से हो पाता है और हार्ट अटैक की संभावना भी बहुत कम हो जाती है।

9. पाचन तंत्र मजबूत बनाता है लहसुन

जिन लोगों का पाचन तंत्र सही नहीं है, भूख खुलकर नहीं लगती, उनके लिए लहसुन का सेवन बहुत लाभकारी हो सकता है। सुबह खाली पेट लहसुन की कच्ची कली चबाने से पाचन तंत्र बेहतर होता है और भूख खुलकर लगती है।

10. सर्दी-जुकाम और खाँसी में आराम दिलाता है लहसुन

लहसुन को भूनकर खाने से या फिर कच्चा चबाने से भी सर्दी-खाँसी और जुकाम में काफी राहत मिलती है। खाँसी में आराम पाने के लिए लहसुन को हल्का भूनकर इसे शहद के साथ लेना चाहिए।

ये देखें : LING KI LAMBAI OR MOTAI BADHANE KI DAWA

लहसुन खाने का सही तरीका

लहसुन के औषधिए गुण और फायदे तो आपने जान लिए, लेकिन इसे खाने का सही तरीका भी आपको मालूम होना चाहिए। क्योंकि कई लोग हमसे पूछते हैं कि लहसुन को कैसे खा सकते हैं? या किस रूप में सेवन कर सकते हैं?

तो चलिए जानते हैं..

  1. अपने रोजाना के आहार में लहसुन की सीमित्र मात्रा ले सकते हैं, ताकि स्वाद का संतुलन भी बना रहे।
  2. प्रतिदिन सुबह खाली पेट लहसुन की एक से दो कच्ची कली का सेवन आप कर सकते हैं। लेकिन फिर भी आपको एक बार डाॅक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।
  3. पालक की सब्जी या साग में लहसुन की कलियों को बारीक टुकड़ों की तरह खाने से भी बहुत फायदा मिलता है। लहसुन को थोड़ा कच्चा ही रहने दें, ताकि आपको अधिक स्वास्थ्य लाभ मिल सके।
  4. लहसुन का इस्तेमाल आप किसी तरीदार सब्जी या सूप वगैरह में भी डालकर सेवन कर सकते हैं।
  5. लहसुन की कच्ची कली के कुछ टुकड़ों को आप चाय में डालकर पी सकते हैं। यानी गार्लिक टी आप पी सकते हैं।
  6. हल्की आँच में घी के इस्तेमाल से लहसुन को भूनकर सेवन किया जा सकता है।
  7. कभी-कभार मोच के लिए या जोड़ों के दर्द के लिए बाहारीतौर पर शरीर में इस्तेमाल किया जा सकता है लहसुन। जैसे अगर जोड़ों के दर्द में आप आराम पाना चाहते हैं, तो सरसों के तेल में लहसुन की कलियों को अच्छे से गर्म करके, दर्द वाले जोड़ों पर मालिश करनी चाहिए।

क्या लहसुन के नुकसान भी है?

बेशक लहसुन व्यक्ति के स्वास्थ्य के लिए बहुत हितकारी होता है, लेकिन कभी-कभी अनावश्यक रूप से या अधूरी जानकारी के कारण लहसुन का प्रयोग नुकसानदायक भी हो सकता है।

आइए जानते हैं कैसे?

  1. लहसुन खाने से स्वास्थ्य लाभ और रोगों में लाभ तो अवश्य मिलता है, मगर अधिक लहसुन का सेवन करने से बाद में मुंह से और शरीर से लहसुन की दुर्गन्ध आने लगती है।
  2. अगर आप कच्चे लहसुन का सेवन करते हैं, तो कभी-कभार इससे एसिडिटी या पेट से जुड़ी समस्याएं भी होने की संभावना बनी रहती है।
  3. अधिक मात्रा में लहसुन का सेवन करने से रक्तस्त्राव बढ़ने की संभावना बनी रहती है। इसलिए जिस भी व्यक्ति की हाल ही में सर्जरी होने वाली हो, तो उसे चाहिए वह सर्जरी से पहले लहसुन का सेवन बिल्कुल भी ना करे।
  4. कभी-कभार लहसुन का सेवन एलर्जी का कारण भी बन जाता है।

आइए जानते हैं लहसुन का सेवन किन लोगों को नहीं करना चाहिए

  1. हम पहले ही उपरोक्त बता चुके हैं कि लहसुन को कच्चे रूप में खाने से पेट से जुड़ी समस्याएं होने की संभावना बनी रहती है, इसलिए जिन लोगों का पाचन तंत्र कमजोर है, उन्हें डाॅक्टरी सलाह से ही लहसुन का सेवन करना चाहिए।
  2. यदि आपकी खून पतला करने दवाईयाँ चल रही हैं, तो ऐसे में आपको लहसुन के सेवन से बचना चाहिए।
  3. जिस व्यक्ति को लिवर से संबंधित कोई गंभीर रोग हो, तो ऐसे में बिना चिकित्सक की परामर्श के लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि अधिक मात्रा में लहसुन का सेवन करने से लिवर को भारी नुकसान पहुंच सकता है।
  4. लहसुन की गंध से माइग्रेन की समस्या और बढ़ जाने की संभावना अधिक बनी रहती है। इसलिए जो भी माइग्रेन की समस्या से पीड़ित हैं, उन्हें लहसुन नहीं खाना चाहिए।
  5. जिस तरह ‘हाई ब्लड प्रेशर’ एक समस्या है, इसी प्रकार ‘लो ब्लड प्रेशर’ भी एक स्वास्थ्य समस्या है। और जिन्हें ‘लो ब्लड प्रेशर’ की समस्या हो, उन्हें लहसुन का सेवन बिना डाॅक्टर की सलाह लिए नहीं करना चाहिए।

दरअसल लहसुन का जो औषधिए गुण होता है, वो ‘हाई ब्लड प्रेशर’ में आराम पहुंचाता है, तो ऐसे में हो सकता है कि लहसुन का सेवन ‘लो ब्लड प्रेशर’ वालों के लिए नुकसानदायक साबित हो।

तो प्रिय पाठकों उम्मीद करते हैं कि यह लेख पूरा पढ़ने के बाद आप जान गये होंगे कि लहसुन कोई साधारण चीज नहीं है, बल्कि कितनी उपयोगी और महत्वपूर्ण औषधि है। यदि लहसुन को समझदारी से, सही तरीके से और सही जानकार बनकर प्रयोग किया जाये, तो लहसुन से आप कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

लहसुन के फायदों के साथ-साथ इसके नुकसान से भी आपको सर्तक रहना जरूरी है। लहसुन की कुछ सीमित मात्रा का ही आपको अपनी आवश्यकतानुसार इस्तेमाल करना चाहिए। आशा करते हैं कि यह लेख आपको पसंद आया होगा और आप इससे काफी लाभ प्राप्त कर सकें।

2 thoughts on “10 Benefits of Eating Garlic – लहसुन खाने के फायदे

Comments are closed.