Home > De Addiction Powder > शराब छोड़ना चाहते हैं, जानिए यह 4 बातें
शराब छोड़ना चाहते हैं, जानिए यह 4 बातें

शराब छोड़ना चाहते हैं, जानिए यह 4 बातें

वैसे शराब की तल से छुटकारा पाना इतना आसान नहीं होता है। जितना कि इस लत का शिकार हो जाना होता है। शौकियातौर पर शुरूआत होती है। फिर धीरे-धीरे व्यक्ति शराब की लत का शिकार हो जाता है। पहले व्यक्ति खुद शराब को पीता है। लेकिन जब वह इसका आदि हो जाता है, तो शराब, व्यक्ति को पीने लगती है। जिसका परिणाम स्वास्थ्य नुकसान, आर्थिक नुकसान और मानसिक नुकसान के रूप में भुगतना पड़ता है। शराब के चक्कर में व्यक्ति अपना मान-सम्मान भी खो बैठता। धीरे-धीरे शराब, शराबी व्यक्ति पर इतनी हावी हो जाती है। शराबी व्यक्ति चाहकर भी शराब से मुक्ति नहीं प्राप्त कर पाता।

मगर दूसरी ऐसा भी देखा गया है कि घर-परिवार का साथ पाकर। अपनी इच्छा शक्ति को मजबूत बनाकर। कई व्यक्ति शराब की तलब पर विजय प्राप्त कर लेते हैं। लेकिन यहां एक बात ध्यान देने योग्य। अगर आप बहुत लंबे समय से शराब पी रहे हैं, तो आपको एकदम से शराब नहीं छोड़नी चाहिए। धीरे-धीरे अभ्यास करते हुए शराब से छुटकार पाना चाहिए। अन्यथा कई प्रकार की समस्याओं का सामाना कर पड़ सकता है। जो लोग हद से ज्यादा दारू पीते हैं। अगर ऐसे लोग तुरन्त शराब छोड़ने का निर्णय कर लें, तो आरम्भ के कुछ दिनों में नजर आ सकते हैं ये लक्षण।

अचानक शराब छोड़ने के नुकसान

Disadvantages of quitting alcohol in Hindi : एक हद में रहकर मदिरापान करना स्वास्थ्य के लिए अधिक नुकसानदायक नहीं होता। लेकिन रोज और अधिक मात्रा में शराब पीना, स्वास्थ्य को गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है। प्रतिदिन ज्यादा शराब पीने से लिवर संबंधी समस्या हो सकती है। इसके अतिरिक्त शरीर के कई अंगों पर भी दारू का नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। कुछ लोग ये बात समझ जाते हैं और शराब छोड़ने के लिए पुरजोर प्रयास भी करते हैं। जिसमें वे सफल भी रहते हैं। ऐल्कोहल से छुटाकारा पाने का प्रयास बहुत सराहनीय है। लेकिन अचानक से शराब छोड़ना भी सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इसलिए अगर आप भी शराब छोड़ना चाहते हैं, जानिए यह 4 बातें।

शराब छोड़ना सही निर्णय : बस जानिए यह 4 बातें

नर्वस का एहसास हो सकता है

हद से ज्यादा शराब का आदि व्यक्ति जब अचानक से शराब छोड़ दे। ऐसे में उसे नर्वस महसूस हो (side effects of quitting alcohol in hindi) सकता है। इसलिए शराब छोड़ने पर अगर आपके साथ भी ऐसा हो तो घबरायें नहीं। ऐसा होना स्वाभाविक प्रक्रिया है। जो व्यक्ति कई वर्षों से रोज और लगातार पी रहा है। जब वह अचानक से शराब छोड दे। उसे शराब ना मिले, तो ऐसे में उसे बेचैनी होने लगती है। लेकिन इस बेचैनी से आपको घबराना नहीं चाहिए। धीरे-धीरे आपकी ये समस्या खुद-ब-खुद ठीक हो जायेगी। बस आपको धैय नहीं खोना है। खुद पर काबू रखना है। अपनी इच्छा शक्ति को मजबूत बनाना है।

क्रोधित व चिड़चिड़ा स्वभाव

जाहिर सी बात है अगर आपको आपकी पसंदीदा वस्तू ना मिले। आपकी नस-नस में, आपकी रूह में बसी चीज तुरन्त आपको ना दिखाई दे। आपके मांगने पर भी ना मिले। ऐसे में गुस्सा आना। किसी से भी बहस कर बैठना स्वाभाविक है। घर-परिवार में मामूली-सी बात पर भी हद से ज्यादा आग-बबूला हो जाना। कई बार तो हाथ-पाई तक भी बात पहुंच जाती है। इसलिए तुरन्त शराब छोड़ने के कुछ नुकसान आपको दिखाई दे सकते हैं। इसलिए शराब ना मिलने पर कितनी भी बेचैनी हो। आपको खुद पर नियंत्रण पाने का अभ्यास करना होगा। इसके लिए आप अपने कुछ अन्य पसंदीदा कार्यों में खुद को व्यस्त रखने का प्रयास कर सकते हैं। धीरे-धीरे शराब पर आप नियंत्रण पा लेंगे। जोकि आपकी सेहत के लिए बहुत अच्छा है।

नींद की कमी

दिनरात शराब पीने के कारण व्यक्ति की हमसफर बन जाती है शराब। ऐसे में बिना शराब पिए व्यक्ति को नींद भी नहीं आती। पहले तो उसे शराब के नशे की थपकी बड़े प्यार से सुला देती थी। लेकिन अचानक शराब छोड़ने पर वही शराब की थपकी की कमी महसूस होने लगती है। रात को सोने पर ऐसा लगता है, मानो कुछ अधूरा रह गया हो। कोई चीज है जो पीछे छूट गई है। ऐसे में बहुत ज्यादा बेचैनी महसूस होने लगती है। शराबी व्यक्ति बिस्तर पर दायें-बायें करवटें बदलते रहता है। कितने भी प्रयास कर ले उसे नींद नहीं आती। आती भी है तो बहुत कम। नींद की कमी के कारण अगले दिन थकान, आलसपन महसूस होता है। हालांकि कुछ दिनों तक स्वयं पर नियंत्रण रखकर गहरी नींद को दोबार प्राप्त किया जा सकता है। बस पुरजोर कोशिश जारी रखें।

भूख ना लगने की समस्या

एकदम से शराब छोड़ने के कारण आपको भूख कम लगने की समस्या हो सकती है। कई लोगों को तो बिल्कुल ही खाने की इच्छा नहीं होती। दरअसल जब शराब छोड़ने के बावजूद बार-बार अंदर से आवाज आती है। पहले शराब, फिर खाना। इसी कशमकश में भूख नाराज होकर कहीं लापता हो जाती है। मगर अपको फिर भी अपनी ओर से प्रयास करना चाहिए कि थोड़ा-बहुत ही सही, मगर खायें जरूर। धीरे-धीरे एक सप्ताह के अंदर आपकी भूख खुल सकती है। अगर भी आपको लगता है कि आपकी भूख नहीं खुल रही है। ऐसे में आपक डॉक्टर से अपनी उचित जांच अवश्य करायें।

धीरे-धीरे शराब छोड़ने के लिए क्या करें?

अगर आपने शराब छोड़ने का निर्णय ले लिया है तो इससे अच्छी बात कोई है नहीं। लेकिन आपको शराब तुरन्त नहीं छोड़नी चाहिए। क्योंकि अगर आप लंबे समय से शराब का सेवन कर रहे हैं। ऐसे में अचानक शराब छोड़ने से आपको कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए आपको धीरे-धीरे अभ्यास करते हुए ही शराब छोड़ना चाहिए। ऐसा करने से आपके शरीर को भी शराब के बिना रहने का अभ्यास हो जायेगा। आइए जानते हैं धीरे-धीरे शराब कैसे छोड़ें?

पानी खूब पिएं

शराब के स्थान पर पानी खूब पिएं। अधिक पानी पीने के कारण आपको पेट भरा हुआ महसूस होगा। एक ताजगी आपको मन-मस्तिष्क में महसूस होगी। साथ ही शरीर से विषैले पदार्थ भी बाहर निकल जायेंगे। जिसके कारण आपकी इच्छा शक्ति भी मजबूत होगी। डिहाइड्रेशन (निर्जलीकरण) की समस्या से भी आप बचे रहेंगे।

व्यस्त जीवन शैली

अपना डेलीरूटीन ऐसा बना लें कि आपको शराब पीने की याद ही ना आये। ऐसा व्यस्त रखें खुद को कि शराब पीने का समय ही ना मिले। इसके लिए अपने पूरे दिन का एक टाइम टेबल आप अपने पास बनाकर तैयार कर लें। ये अभ्यास आपको शराब की लत को छुड़ाने में मदद करेगा। धीरे-धीरे आपकी शराब की लत छूट जायेगी।

परिजनों के साथ समय बितायें

घर-परिवार में, दोस्तों के साथ ज्यादा वक्त बितायें। लेकिन ऐसे दोस्त और सदस्यों के साथ जो शराब का सेवन न करते हों। उनके साथ रहने से आपको उनका साथ अच्छा लगेगा। वो आपको शराब के नुकसान बताते रहेंगे। जो आप पहले शराब की लत में पड़कर नुकसान कर चुके हैं। उसका एहसास आपको कराते रहेंगे। जिसके कारण आपको शराब की तलब परेशान नहीं करेगी। एक समय ऐसा आयेगा कि धीरे-धीरे आप नशे से मुक्ति पा लेंगे।

एल्कोहल की मात्रा कम करें

धीरे-धीरे एल्कोहल की मात्रा को कम करें। मान लीजिए अगर आप रोज शराब के 6 पैग पीते हैं। तो आपको प्रयास करना चाहिए कि सप्ताह में अब 3 पैग पिएं। अगले सप्ताह 2 पैग। फिर एक पैग। जब आपका यह अभ्यास कुछ माह पक्के हो जायें। अब आपको दो सप्ताह में एक पैग पीना है। ऐसे ही धीरे-धीरे आपकी शराब पीने की आदत पूरी तरह छूट जायेगी। आपको कोई स्वास्थ्य नुकसान भी नहीं होगा।

शराब छुड़ाने की आयुर्वेदिक दवा का नाम बताएं?

धीरे-धीरे और नेचुरल तरीके से शराब की लत छुड़ाने के लिए आप Suraj Herbals का आयुर्वेदिक प्रोड्क्ट ‘सूरज एडिक्टोस्योर पाउडर’ (Suraj’s AddictOsur Powder) का सेवन शराबी व्यक्ति को करायें। यह दवा पाउडर के रूप में आती है, जिसे प्राकृतिक जड़ी-बूटियों से मिलकर तैयार किया जाता है। यानी यह शराब छुड़ाने की एक शुद्ध आयुर्वेदिक औषधी है। इसमें किसी भी प्रकार का कोई स्ट्रॉयड्स या केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। यह आयुर्वेदिक पाउडर बिनी किसी दुष्प्रभाव के शराब की लत को 10 से 15 दिन में बहुत कम कर देती है। 30 से 40 दिन में शराबी व्यक्ति पूरी तरह शराब से तौबा कर लेता है। शराब के नाम से ही उसे नफरत होने लगती है। ना खुद पीना पसंद करता है और ना ही अपने सामने किसी का पीना बर्दाश्त करता है।

आपको हर्बल पाउडर आपको शराबी व्यक्ति के खाने-पीने की चीजों में मिलाकर देनी होती है। बिना बताये शराब छुड़ाने का यह एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। सबसे खास बात का दवा का स्वाद भी ऐसा है कि शराबी को यह एहसास ही नहीं हो पाता कि उसे खाने-पीने की चीज में कुछ मिलाकर दिया जा रहा है। आप यकीन मानिए यह दवा आपके घर-परिवार की खुशियों को लौटा सकती है। शराबी व्यक्ति की शराब की लत को पूरी तरह छुड़ाकर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *